Sat. Aug 13th, 2022
family card

नई दिल्ली। नेटवर्क

Family Card: सरकार एक परिवार को एक रोजगार देने का ऐलान किया है। जिसके साथ एक परिवार Family Card के एक युवा को सरकारी नौकरी और एक सदस्य को रोजगार देने का ऐलान किया गया। सरकारी ट्वीट कर कहा- हम लोग परिवार कार्ड Family Card जारी करने जा रहे हैं। इसके अंतर्गत सरकारी नौकरी, रोजगार या स्वरोजगार से वंचित परिवारों को चिह्नित किया जाएगा। राज्य सरकार का प्रयास होगा कि हर परिवार के कम से कम एक सदस्य को नौकरी, रोजगार अथवा स्वरोजगार के साथ जोड़ा जाए।

एक सदस्य को स्वरोजगार देना है

जल्द ही एक परिवार से एक नौकरी, रोजगार या स्वरोजगार से जोड़ने की योजना लाई जाएगी। सीएम योगी ने इस दौरान कहा कि जब वो यूपी के सीएम बने थे तब राज्य में छोटे और मध्यम उद्योग लगभग बंद होने के कगार पर थे। उनके सामने राज्य को बेरोजगारी से निकालने की सबसे बड़ी चुनौती थी।

यह भी पढ़ें: जानें अब कब मिलेगी किस राज्यें में E-Shram Card ई-श्रम कार्ड की किस्त

इसके लिए सरकार ने स्वावलंबन की दिशा में कदम उठाया और लोगों को स्वरोजगार के लिए प्रेरित किया। स्वरोजागर के रजि. प्रक्रिया को आसान बनाकर अनुदान पर लोन दिया जायेगा। जिसकी ब्याज दरें भी कम होगी और बैंक की गारंटी सरकार लेने की तैयारी कर रही है। जिससे ज्यादा से ज्यादा रोजगार युवाओं को मिल सकें।

एक परिवार युवा को नौकरी देने का प्रयास

सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश स्वावलंबन की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि हमारा नौजवान नौकरी देने वाला होना चाहिए ना किस नौकरी मांगने वाला। इसी दिशा में सरकार कोशिश कर रही है कि ऐसे कार्यक्रम लाए जाएं जिससे युवाओं को स्वावलंबी बनाकर स्वरोजगार पैदा किया जा सके। साथ कई योजना का ऐक्शन प्लान तैयार किया जा रहा जिसके तहत प्रदेश में खाली पड़े सभी विभागों में सरकारी भर्ती कराई जायेगी। जिसकी तैयारी के लिये विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये गये है।

एक परिवार एक नौकरी व रोजगार योजना का लाभ लेने के लिये बनवान होगा परिवार कार्ड

सीएम योगी ने ट्वीट कर कहा- हम लोग परिवार कार्ड जारी करने जा रहे हैं। इसके अंतर्गत सरकारी नौकरी, रोजगार या स्वरोजगार से वंचित परिवारों को चिह्नित किया जाएगा। राज्य सरकार का प्रयास होगा कि हर परिवार के कम से कम एक सदस्य को नौकरी, रोजगार अथवा स्वरोजगार के साथ जोड़ा जाए। परिवार कार्ड में परिवार की आर्थिक स्थिीत दर्ज होगी। पूरे परिवार का विवरण भी दर्ज होगा। परिवार कार्ड डिजीटल होगा जिसका एक नंबर होगा । सरकार उस नंबर से परिवार की पूरा विवरण देख सकती है।

कैसा होगा परिवार कार्ड

एक नया परिवार कल्याण कार्ड के निर्माण की योजना बनाई है। प्रदेश के सभी परिवार की मैपिंग कर एक पारिवारिक पहचान पत्र लॉन्च् किया जाएगा। नया 12 अंकों का यह कार्ड सरकार को परिवारों के बारे में पूरी जानकारी जुटाने में मदद करेगा। इस कार्ड के जरिए परिवारों को मिलने वाली सरकारी योजनाओं का लाभ मिलने में मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ें: जानिये कैसे बनेगा परिवार कार्ड और किन-किन योजनाओं का मिलेगा लाभ

इसको लेकर पिछले दिनों सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक प्रजेंटेशन देखा था। इसमें योजना का पूरा विवरण दिया गया है। फैमिली आईडी कार्ड के लिए राशन कार्ड से डाटा लिए जाने की तैयारी की जा रही है। अगर ऐसा होता है तो कुछ ही दिनों में 60 फीसदी परिवारों को इससे जोड़ने में कामयाबी मिल जाएगी।

Rojgar
Rojgar

परिवार कार्ड से सरकारी योजनाओं का मिलेगा लाभ

फैमिली कार्ड को लेकर प्रयागराज में पायलट प्रोजेक्ट के तहत काम किया गया। इस पायलट प्रोजेक्ट के तहत राशन कार्ड के आंकड़ों के आधार पर लाभार्थी परिवारों की पहचान की गई है। सरकार को यह डेटा भी उपलब्ध कराया गया है कि किन परिवारों को सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है।

यह भी पढ़ें: यूपी सरकार हर परिवार के एक व्यक्ति को देगी नौकरी और रोजगार

अधिकारियों की मानें तो फैमिली कार्ड के बनने के बाद फर्जी कार्ड बंद हो जाएंगे। एक ही परिवार को किसी भी योजना का लाभ बार-बार मिलना बंद हो जाएगा। सरकार उन परिवारों को लाभ के दायरे में लाएगी, जो अभी तक इससे वंचित रहे हैं। यूपी चुनाव 2022 के बाद योगी सरकार ने प्रदेश में रहने वालों को बड़ा वादा किया था, इस पर काम शुरू किया जा रहा है।

परिवार कार्ड से मिलेगा रोजगार

योगी सरकार ने फैमिली कार्ड के माध्यम से परिवार के सदस्यों को रोजगार दिलाने की योजना तैयार की है। कार्ड के जरिए पता चल सकेगा कि किस परिवार के सदस्य को अब तक नौकरी नहीं मिली है, जो अब तक इस प्रकार की योजना के लाभ से वंचित रहे हैं। यूपी चुनाव 2022 में भाजपा की दोबारा जीत के बाद यूनिक आईडी कार्ड के माध्यम से सरकार की ओर से कई सेवाएं जोड़ी जाएंगी। अधिकारियों का कहना है कि यदि परिवार के एक सदस्य का जाति प्रमाण पत्र बनवाया जाता है तो परिवार के दूसरे सदस्य भी आसानी से इसे हासिल कर सकते हैं। उन्हें आवेदन के साथ अन्य दस्तावेजों की जरूरत नहीं होगी।

हरियाणा और कर्नाटक में बन रहे परिवार कार्ड

यूपी सरकार की ओर से हरियाणा में चल रहे परिवार पहचान पत्र और कर्नाटक के कुटुंब कार्ड के बारे में जानकारी ली गई है। हरियाणा में परिवार कार्ड के लिए राशन कार्ड डेटा का उपयोग होता है। सीएम योगी की ओर से फैमिली कार्ड बनाने की पूरी जानकारी ली गई है। इसमें साफ किया गया है कि परिवार कार्ड में प्रदेश में रहने वाले लोगों की पूरी जानकारी रखी जाएगी। इसमें उन परिवारों को प्राथमिकता के स्तर पर रखा जाएगा, जिनके यहां के कोई नौकरी में नहीं होंगे।

परिवार कार्ड से बेरोजगारों मिलेगा रोजगार

फैमिली कार्ड बनने के बाद बेरोजगारों को लेकर भी विशेष रूप से योजना तैयार की जाएगी। उनके हिसाब का रोजगार दिलाए जाने को लेकर कार्यक्रम बनाया गया है। सीएम योगी ने साफ कहा है कि रोजगार के अवसर पैदा किए जाएंगे। युवाओं को जॉब सीकर की जगह जॉब गिवर बनाने की योजना तैयार की गई है। इसको लेकर ऋण की भी व्यवस्था कराई गई है। सरकार इस प्रकार की योजनाओं को बढ़ावा देकर लोगों को स्वरोजगार से भी जोड़ने की तैयारी की जा रही है।

जिन श्रमिकों के अभी तक नहीं मिले है 1000 रूपये तो ऐसे करें चेक अपना नाम और धनराशि