मंगल. जुलाई 23rd, 2024

UP News : देवरिया कांड में सीएम योगी ने 15 अधिकारियों को किया निलंबित, जानें पूरा मामला

UP News
UP News

UP News: लखनऊ । सीएम योगी ने बड़ा एक्शन लिया है। लापरवाही में राजस्वकर्मियों और पुलिसकर्मियों पर गाज गिरी है। कुछ को निलंबित किया गया है तो कुछ का स्थानांतरण और विभागीय कार्रवाई का दंड मिला है।

सीएम योगी ने एसडीएम, दो तहसीलदार समेत 15 लोगों को निलंबित कर दिया है। सस्पेंड किए गए लोगों में सीओ, तीन लेखपाल, थाना प्रभारी, एक हेड कांस्टेबल, 4 कांस्टेबल और 2 हल्का प्रभारी शामिल हैं। सीएम योगी ने देवरिया में हुई घटना की गहन समीक्षा के बाद कहा कि दोषी कोई भी होगा बचेगा नहीं। तहसीलदारों और क्षेत्राधिकारी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी होगी।

ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Whatsapp Channel को Follow करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें

देवरिया में गांधी जयंती के दिन जमीन के विवाद में एक पक्ष के मुखिया की हत्या के बाद उसके परिजनों ने हमला बोल कर दूसरे पक्ष के पांच लोगों की हत्या कर दी थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए सीएम योगी ने तत्काल लखनऊ से प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद और स्पेशल डीजी प्रशांत कुमार को देवरिया भेजा था।

अधिकारियों से रिपोर्ट भी तलब की थी। रिपोर्ट मिलते ही योगी का एक्शन हुआ है। शासन की रिपोर्ट में देवरिया की तहसील एवं थाना रूद्रपुर स्थित ग्राम फतेहपुर में घटना के संबंध में दोषी कर्मचारी/अधिकारी की घोर लापरवाही एवं कर्तव्यपालन में शिथिलता मिली है।

मारे गए सत्य प्रकाश दुबे ने ग्राम समाज की भूमि पर अवैध कब्जा के संबंध में आईजीआरएस के अंतर्गत अनेक शिकायतें मुख्यमंत्री संदर्भ के रूप में आनलाइन पुलिस विभाग/राजस्व विभाग को भेजी गई थीं। दोनों विभाग के संबंधित अधिकारियों ने मामले को गम्भीरतापूर्व लेकर निस्तारण नहीं कराया था। इस पर मुख्यमंत्री ने राजस्व एवं पुलिस विभाग के विभिन्न अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही के निर्देश दिए।

इन अधिकारियों पर एक्शन

-वर्तमान उपजिलाधिकारी योगेश कुमार गौड़ एवं क्षेत्राधिकारी रुद्रपुर जिलाजीत को तत्काल निलंबित किया जाए।
-पूर्व में उपजिलाधिकारी रहे राम विलास, ओम प्रकाश, ध्रुव शुक्ला एवं संजीव कुमार उपाध्याय के विरुद्ध विभागीय कार्यवाही की जाए।
-सेवानिवृत्त तहसीलदार वंशराज राम एवं सेवानिवृत्त राजस्व निरीक्षक रामानन्द पाल के विरुद्ध विभागीय कार्यवाही शुरू करें।
-अभय राज (वर्तमान में निलंबित तहसीलदार) को अतिरिक्त आरोप पत्र जारी किया जाए।

-रामाश्रय तत्कालीन तहसीलदार, सम्प्रति तहसीलदार जनपद बलरामपुर को निलंबित करते हुए विभागीय कार्यवाही संस्थित की जाए तथा केशव कुमार तहसीलदार रूद्रपुर को निलंबित करते हुए विभागीय कार्यवाही की जाए।
-विशाल नाथ यादव (राजस्व निरीक्षक), राजनन्दनी यादव (क्षेत्रीय लेखपाल), अखिलेश (लेखपाल) को निलंबित करते हुए विभागीय कार्यवाही की जाए।

-हेड कॉन्स्टेबल राजेश प्रताप सिंह, कॉन्स्टेबल अवनीश चौहान, हल्का प्रभारी / उपनिरीक्षक जय प्रकाश दुबे व प्रभारी निरीक्षक नवीन कुमार सिंह को निलंबित कर विभागीय कार्यवाही शुरू की जाए।
-पूर्व में आईजीआरएस के संदर्भों में निस्तारण में लापरवाही के लिये उत्तरदायी पाए गए का. कैलाश पटेल, कॉन्स्टेबल राम प्रताप कन्नौजिया, सुभाष यादव एवं उ.नि. सुनील कुमार, पूर्व प्रभारी निरीक्षक, रूद्रपुर को निलंबित किया जाए तथा तत्कालीन क्षेत्राधिकारी, रूद्रपुर दिनेश कुमार सिंह यादव के विरुद्ध विभागीय कार्यवाही प्रारंभ की जाए।

 

By Bhoodev bhagalia

Bhoodev भूदेव जागरूक यूथ न्यूज अखबार व वेबसाइड में सीनियर कंटेंट एडिटर के पद पर कार्यरत है। पिछले 10 वर्षों से मीडिया क्षेत्र प्रिन्ट और डिजिटल में काम कर रहे है। पत्रकारिता में पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद अपने करियर की शुरूआत वर्ष 2012 में हिन्दुस्तान समाचार पत्र मुरादबाद से की। इसके बाद अमर उजाला में भी अपनी सेवाएं दी। प्रिंट मीडिया में रहते हुए डेस्क और न्यूज एडिटिंग में काफी समय तक काम किया है।

Related Post