Sun. Aug 14th, 2022
balat

मुंबई। त्रिलोका नेटवर्क

देशभर में आए दिन लड़कियों के साथ छेड़छाड़ और बलात्कार की खबरें देखने और सुनने को मिलती हैं. ये वाक‌ई बहुत दुखद है कि किसी लड़की की मर्ज़ी के बग़ैर उसके साथ जोर-जबर्दस्ती कर सेक्स करने‌ की घटनाओं में इजाफ़ा हो रहा है. ऐसे ज़्यादातर मामलों में अपराध करनेवालों को सज़ा तक नहीं मिलती है. मगर क्या आपने कभी सोचा है कि लड़के भी लड़कियों की ज़ोर-जबर्दस्ती और बलात्कार का शिकार होते हैं?

यकीनन, यह पढ़कर आप सभी चौंक गये होंगे. ऐसे ही चौंकानेवाले विषय पर अब एक फ़िल्म आ रही है, जिसका नाम है ‘बलात’. लड़कियों द्वारा लड़कों के यौन शोषण पर बनी ‘बलात’, ऐसे अपराधों के बारे में आपकी आंखें खोल देगी और आपको सोचने पर मजूबर कर देगी. इस फ़िल्म का पहला पोस्टर हाल ही में जारी किया गया. फ़िल्म का पहला लुक लोगों को ख़ासा पसंद आ रहा है.

‘बलात’ का निर्माण मनीष उपाध्याय ने किया है तो वहीं इस फिल्म के लेखन और निर्देशन की ज़िम्मेदारी प्रेम सागर सिंह ने निभाई है.

‘बलात’ Balat में दिखाया गया है कि कैसे तीन अमीरज़ादियां पैसे और ताक़त के नशे में एक लड़के की मर्ज़ी के विरुद्ध उसका बलात्कार करती हैं. ऐसे में लड़का जब अपने साथ हुई ज़ोर-जबर्दस्ती के बारे में लोगों को बताता है तो पहले उसपर कोई यकीन‌ नहीं करता है. बाद में इसे लोग मज़ाक का बिषय भी बना लेते हैं. मगर तीन लड़कियों के हवस का शिकार लड़का किस तरह से लड़कियों द्वारा अपने साथ की गई ज़्यादती के ज़रिए लोगों को एक गंभीर मुद्दे के बारे में सोचने पर मजबूर कर देता है, यही इस फ़िल्म की सबसे बड़ी ख़ासियत है.

आरंभ क्रिएशन्स द्वारा प्रस्तुत की जानेवाली इस फ़िल्म में प्रभाकर मिश्रा, रूही जलगांवकर, श्रेया सूर्यवंशी, चांदनी जैसू, ओम साटलकर, रोहन बिष्ट जैसे मंजे हुए कलाकार मुख्य भूमिकाओं में नज़र आएंगे.

फ़िल्म के निर्माता मनीष उपाध्याय कहते हैं, “सब जानते हैं कि हमारे समाज में कितने बड़े पैमाने पर लड़कियों को लोग अपनी हवस का शिकार बनाते हैं. मगर कम संख्या में ही सही, जो कुछ लड़कों के साथ लड़कियां करती हैं, वो भी लोगों के सामने लाना ज़रूरी है. यही वजह है कि मैंने बतौर प्रोड्यूसर अपनी पहली फिल्म ‘बलात’ बनाने का फ़ैसला लिया.”

फिल्म के निर्देशक प्रेम सागर सिंह रंगमंच की दुनिया का एक जाना-माना नाम हैं और इससे पहले कई प्रख्यात नाटकों के अलावा कुछ फिल्मों का निर्देशन भी वे कर चुके हैं. वे कहते हैं, “समाज के एक अलहदा विषय पर बनी हमारी यह फ़िल्म यकीनन लोगों को सोचने पर मजबूर कर देगी. बलात्कार जैसे जघन्य अपराधों का लड़कियों तो बड़े पैमाने पर शिकार होती ही हैं, मगर जो कुछ लड़कों के साथ होता है, उसे अनदेखा नहीं किया जाना चाहिए. न्याय दोनों को ही मिलना चाहिए.”उल्लेखनीय है कि एक अनूठे विषय पर बनी ‘बलात’ जल्द ही किसी लोकप्रिय ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज होगी ।