Wed. Aug 10th, 2022
poultry farming

पॉल्ट्री फार्मिंग poultry farming से प्रति माह कमा सकते है लाखों

नई दिल्ली। नेटवर्क

poultry: अगर आप कोई कारोबार शुरू कर मोटी रकम कमाना की सोच रहे हैं तो यह खबर आपके बड़े ही काम की है। ग्रामीण से शहरी क्षेत्रों में इस बिजनेस की मांग बढ़ती जा रही है। इस बिजनेस में कम खर्च पर ज्याद मुनाफा हो जाता है। इस बिजनेस करने के लिये सरकार भी मदद कर रही है। जिसके माध्यम से 25 प्रतिशित अनुदान मिल रहा है। इसके आवेदन के लिये अपने जिले के खादी ग्रामउद्योग विभाग से संपर्क कर सकते है।

कृषि के क्षेत्र में आप छोटा से कारोबार शुरू कर आप पैसा कमा सकते हैं। आप मुर्गी पालन poultry कर सकते हैं, जिसके लिए सरकार भी मदद कर रही है। इस कारोबार को 5-9 लाख रुपये में शुरू किया जा सकता है।

छोटे स्तर से शुरू कर सकते है मुर्गी पालन poultry

छोटे स्तर यानी 1500 मुर्गियों से लेयर फार्मिंग की शुरुआत करेंगे तो आप 50 हजार से 1 लाख रुपये हर महीने की कमाई कर सकते हैं। अगर रोजाना के हिसाब लगाएं तो आप 3000 रुपये से अधिक कमा सकते हैं।

ये भी पढ़ें–  MAKE MONEY ONLINE: घर बैठे फोन से पैसे कमाएं

पॉल्ट्री फार्मिंग के लिए आपको सबसे पहले एक जगह तलाशनी होगी। इसके बाद पिंजड़े और इक्विपमेंट पर लगभग 5-6 लाख रुपये खर्च करना होगा। 1500 मुर्गियों के लक्ष्य से काम शुरू करना हो तो 10 प्रतिशत ज्यादा चूज़े खरीदने होंगे।

मुर्गी पालन poultry से अंडे से भी होती है कमाई

इस कारोबार में आपको अंडे से भी होगी जबरदस्त कमाई होगी। देश में अंडे के दाम बढ़ने लगे हैं। ऐसे में इसे बेचकर आपको अच्छी खासी अर्निंग कर सकते हैं।

वहीं, एक लेयर पैरेंट बर्थ की कॉस्ट लगभग 30-35 रुपये होती है। मुर्गियां खरीदने के लिए 50 हजार रुपये का बजट रखना होगा। अब इन्हें पालने के लिए अलग-अलग तरह का खाना खिलाना पड़ता है और साथ ही मेडिकेशन पर भी खर्च करना पड़ता है।

हर साल होगी poultry लाखों की कमाई

लगातार 20 हफ्ते तक मुर्गियों को खिलाने का खर्च होगा करीब 1 से 1.5 लाख रुपये। एक लेयर पैरेंट बर्ड एक साल में लगभग 300 अंडे देती है। 20 हफ्ते बाद मुर्गियां अंडा देना शुरू कर देती है और साल भर तक अंडे देती है। 20 हफ्तों के बाद इनके खाने पीने पर तकरीबन 3-4 लाख रुपये खर्च होता है।

ये भी पढ़ें–  शुरू करें आइसक्रीम IceCream पार्लर का बिजनेस

ऐसे में 1500 मुर्गियों से 290 अंडे प्रति वर्ष के औसत से लगभग 4,35,000 अंडे मिलते हैं। बर्बादी के बाद भी अगर 4 लाख अंडे बेच पाएं तो थोक भाव में एक अंडा 5-7 रुपये की दर से बिकता है। साल भर में सिर्फ अंडे बेचकर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।

मुर्गी पालन के लिये सरकार देती है सब्सिडी

वहीं, पॉल्ट्री poultry फार्म के बिजनस के लोन पर सब्सिडी करीब 25 प्रतिशत होती है। वहीं, एससी वर्ग को प्रोत्साहन देने के लिए यह सब्सिडी 35 प्रतिशत तक हो सकती है। बता दें कि इस कारोबार की खासियत यह है कि इसमें कुछ रकम खुद लगानी होती है और बाकी की बैंक से लोन मिल जाएगा।

मुर्गी पालन योजना 2022 से कौन-कौन व्यक्ति Loan ले सकता है

मुर्गी पालन व्यवसाय स्थापित करने के लिए कोई भी ब्यक्ति लोन प्राप्त कर सकता है। जो मुर्गी पालन या Poultry Farming व्यवसाय स्थापित करना चाहता है। अथवा जिन्होंने पोल्ट्री फार्मिंग में के व्यवसाय में अनुभव अथवा कहीं से प्रशिक्षण प्राप्त किया हो।
इसके साथ ही जहां पर आवेदक मुर्गी पालन या Poultry Farming व्यवसाय स्थापित करना चाहता है। उस जगह से आधा किलो मीटर दूर तक कोई मुर्गी पालन या Poultry Farming नहीं हो
और वहां पर पानी की उचित व्यवस्था हो।

मुर्गी पालन लोन कैसे ले

मुर्गी पालन या Poultry Farming व्यवसाय की स्थापना करने के लिए बैंकों द्वारा लोन प्रदान किया जाता है। बैंक द्वारा प्रदान किए जा रहे हैं। मुर्गी पालन या Poultry Farming व्यवसाय के लिए लोन को आप इस तरह से समझ सकते हैं।

बात करें State Bank of India की तो यह बैंक मुर्गी पालन या Poultry Farming व्यवसाय की स्थापना करने के लिए आपको कुल लागत का 75% तक लोन प्रदान करती है।
भारतीय स्टेट बैंक द्वारा 5000 मुर्गियों के पालन पर ₹300000 तक का लोन प्रदान करने का प्रावधान है। इसके। साथी बैंक अधिकतम ₹9 लाख तक का ही लोन मुर्गी पालन या Poultry Farming के लिए प्रदान करती है।
बैंक से लोन प्राप्त करने के लिए आपको अपने प्रोजेक्ट प्लान और उपकरण खरीदने और जमीन आदि का पूरा विवरण बैंक को प्रदान करना होता है।
भारतीय स्टेट बैंक द्वारा दिए गए लोन को भुगतान करने के लिए बैंक द्वारा 5 वर्ष की अवधि तय की गई है। यदि आप 5 वर्षों तक युवान का भुगतान नहीं कर पाते हैं। तो आपको 6 महीने की अतिरिक्त समय प्रदान किया जाता है।
मुर्गी पालन लोन प्राप्त करने के लिए आवश्यक दस्तावेज कौन कौन से हैं?

लोन प्राप्त करने के लिए आपको कुछ आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ती है।

पहचान प्रमाण पत्र – जैसे ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर ID कार्ड, पैन कार्ड, पासपोर्ट आदि
हाल में खींची गई पासपोर्ट साइज की फोटोग्राफ्स
एड्रेस प्रूफ जैसे – राशन कार्ड, बिजली बिल, टेलीफोन बिल, पानी बिल, लीज एग्रीमेंट आदि
बैंक की स्टेटमेंट की फोटो कॉपी और जमानतदार
अपने प्रोजेक्ट का पूरा ब्यौरा अथवा प्रोजेक्ट रिपोर्ट