Mon. Oct 3rd, 2022

देहरादून। महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्य ने कहा है कि प्रदेश में संचालित मिनी आंगनबाड़ी केंद्रों को जल्द उच्चीकृत किया जाएगा। वर्तमान में राज्य में 5120 मिनी आंगनबाड़ी केंद्र संचालित किए जा रहे हैं, जिन्हें पूर्ण आंगनबाड़ी केंद्रों के रूप में स्वीकृत करने का प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेजा जा रहा है।

मंत्री रेखा आर्य ने शुक्रवार को बताया कि 150 से 300 की जनसंख्या पर मिनी आंगनबाड़ी और 400 से 800 की जनसंख्या पर पूर्ण आंगनबाड़ी केंद्र खोले जाने का प्रावधान है। इसी के तहत अब ऐसे मिनी आंगनबाड़ी केंद्र जो पूर्ण आंगनबाड़ी केंद्र के मानक (400 से 800 की जनसंख्या) को पूरा करते हैं उन्हें उच्चीकृत किये जाने का निर्णय लिया गया है। इस संबंध में केन्द्र सरकार को प्रस्ताव बनाकर भेजा जा रहा है। मिनी आंगनबाड़ी केंद्रों के उच्चीकृत हो जाने से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को कार्य करने में सहूलियत मिलेगी।

उन्होंने कहा कि लगातार कार्यकर्ताओं, जनप्रतिनिधियों और मिनी आंगनबाड़ी की तरफ से यह मांग की जा रही थी कि जनसंख्या बढ़ने के साथ ही आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों की संख्या भी बढ़े। ऐसे में मिनी आंगनबाड़ी केंद्रों को उच्चीकृत किया जाना आवश्यक है। इसलिए विभाग की ओर से ऐसे प्रस्ताव सभी जनपदों से मंगाए गए हैं और जल्द ही इस प्रस्ताव को केन्द्र सरकार को भेजा जाएगा।