Sun. Jun 23rd, 2024

Free Silai Machine : फ्री सिलाई मशीन अब इतनी उम्र की महिलाओं को भी मिलेंगी, जानें आवेदन का तरीका

silai machine yojana
silai machine yojana

Free Silai Machine : नई दिल्ली। यदि आप भी प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के अंतर्गत संचालित निःशुल्क सिलाई मशीन योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो हमारा आज का आर्टिकल अंत तक पढ़ें। आज के इस आर्टिकल में हमारे द्वारा निःशुल्क सिलाई मशीन योजना से संबंधित पूरी जानकारी दी गई है।

महिलाओं को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाने के लिए भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के अंतर्गत निःशुल्क सिलाई मशीन योजना शुरू की गई। इस योजना का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को आगे बढ़ाने के लिए रोजगार के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है। इस योजना के तहत महिलाओं को ₹15000 की सहायता राशि दी जाती है ताकि वे अपने व्यवसाय के लिए सिलाई मशीन या संबंधित टूल किट खरीद सकें।

ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Whatsapp Channel को Follow करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें

मुफ्त सिलाई मशीन योजना के तहत आर्थिक रूप से गरीब परिवारों की महिलाओं को स्वरोजगार के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से लगभग 50 हजार महिलाओं को मुफ्त सिलाई मशीनें प्रदान की जाएंगी ताकि वे घर बैठे स्वरोजगार कर सकें।

 

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना की अंतिम तिथि 2024

 

सरकार ने अभी तक इस योजना के लिए कोई आखिरी तारीख तय नहीं की है। लेकिन सरकार हर वित्तीय वर्ष में बजट जारी करती है उसी के अनुसार आवेदन किये जाते है। यदि आपने अभी तक इस योजना के लिए आवेदन नहीं किया है, तो जल्द से जल्द इस योजना के लिए आवेदन करें, अन्यथा आप इस योजना का लाभ पाने से वंचित रह जाएंगे।

आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज

इस योजना में आवेदन करने के लिए महिला आवेदक को कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज (जैसे आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, बैंक की पास बुक, पहचान पत्र, आयु प्रमाण पत्र, मोबाइल नंबर, विधवा होने की स्थिति में विधवा प्रमाण पत्र, विकलांगता की स्थिति में विकलांगता प्रमाण पत्र) प्रस्तुत करने होंगे। ) आदि की आवश्यकता होगी। यदि आप आधार ईकेवाईसी के तहत फार्म भरवाते है तो आपकी डिटेल केवल आधार कार्ड से ले ली जायेंगी ।

फ्री सिलाई मशीन का फार्म अप्लाई केवल ऑनलाइन ही करें, इन बातों का रखें ध्यान

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना में आवेदन करने के लिय सबसे पहले आपका आधार कार्ड होना जरूरी है. आधार कार्ड से मोबाइल नंबर लिंक होना भी जरूरी है. बैंक की पासबुक, फोटो, घोषणा पत्र आदि कागज जरूरी है. आप खुद नहीं कर सकते तो अपने पास के जनसेवा केंद्र पर जाकर आवेदन कर सकते है.

निःशुल्क सिलाई मशीन योजना के लिए आवश्यक योग्यताएँ

यदि आप भी निःशुल्क सिलाई मशीन योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको सरकार द्वारा निर्धारित निम्नलिखित योग्यताओं को पूरा करना आवश्यक है-

इस योजना के तहत केवल भारत की मूल निवासी महिलाएं ही आवेदन कर सकती हैं।
इस योजना के लिए सरकार द्वारा महिलाओं की आयु सीमा 20 वर्ष से 40 वर्ष के बीच रखी गई है।
इस योजना के तहत आवेदन करने वाली महिला के परिवार की मासिक आय ₹12000 या उससे कम होनी चाहिए।

फ्री मशीन के लिये करें ऑनलाइन आवेदन

अगर आप भी केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही मुफ्त सिलाई मशीन योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो निम्नलिखित प्रक्रिया का पालन करें-
निःशुल्क सिलाई मशीन योजना के लिए आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना की आधिकारिक वेबसाइट www.pmvishwakarma.gov.in पर जाना होगा।

 

ऑनलाइन आवेदन

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय द्वारा शुरू की गई एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना है। इसका उद्देश्य किफायती कौशल प्रशिक्षण, आधुनिक उपकरण और डिजिटल लेनदेन तक पहुंच प्रदान करके कारीगरों और शिल्पकारों का समर्थन करना है। प्रतिभागियों को अपना प्रशिक्षण पूरा करने पर एक प्रमाणपत्र प्राप्त होता है। इस योजना में भारत सरकार द्वारा पहचाने गए 18 विभिन्न ट्रेड शामिल हैं।

free silai machine yojana list 2024

इस पहल का समर्थन करने के लिए, सरकार ने 13,000 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है, जिससे यह सुनिश्चित किया जा सके कि वित्तीय सहायता बड़ी संख्या में कारीगरों और शिल्पकारों तक पहुंचे जो पारंपरिक उपकरणों और मैन्युअल तकनीकों पर निर्भर हैं। यह योजना पांच साल तक चलेगी, जो वित्तीय वर्ष 2027-28 में समाप्त होगी। इच्छुक व्यक्ति पीएम विश्वकर्मा पंजीकरण पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन पंजीकरण करके आवेदन कर सकते हैं।

पीएम विश्वकर्मा योजना 2024 के फायदे

कौशल प्रशिक्षण: लाभार्थियों को रोजगार शुरू करने में मदद करने के लिए कौशल प्रशिक्षण प्राप्त होता है। इस ट्रेनिंग के दौरान उन्हें प्रतिदिन 500 रुपये दिए जाते हैं। प्रशिक्षण कम से कम 15 दिनों तक चलता है।

टूलकिट प्रोत्साहन: लाभार्थियों को आवश्यक टूलकिट खरीदने के लिए उनके बुनियादी कौशल प्रशिक्षण की शुरुआत में 15,000 रुपये का ई-वाउचर मिलता है।

ऋण सहायता: कारीगर अपना व्यवसाय शुरू करने के लिए कम ब्याज वाले ऋण का उपयोग कर सकते हैं। 3 लाख रुपये तक का ऋण बिना गारंटी के प्रदान किया जाता है, जिसे दो किस्तों में वितरित किया जाता है – पहले 1 लाख रुपये, फिर 2 लाख रुपये। ऋण क्रमशः 18 महीने और 30 महीने के लिए, 8% छूट के साथ 5% की ब्याज दर पर हैं।

डिजिटल प्रोत्साहन: लाभार्थियों को मासिक 10 लेनदेन तक प्रति डिजिटल लेनदेन पर 1 रुपया मिलता है, जो उनके बैंक खाते में जमा किया जाता है।

प्रमाणपत्र: प्रशिक्षण पूरा करने के बाद, कारीगरों को एक अद्वितीय पीएम विश्वकर्मा प्रमाणपत्र आईडी कार्ड प्राप्त होता है, जो उन्हें औपचारिक पहचान प्रदान करता है।

By Bhoodev Bhagalia

जागरूक यूथ न्यूज डिजिटल में सीनियर डिजिटल कंटेंट प्रोड्यूसर है। पत्रकारिता की शुरुआत हिन्दुस्तान अखबार, अमर उजाला, समर इंडिया होते हुए जागरूक यूथ न्यूज में पहुंचा। लगातार कुछ अलग और बेहतर करने के साथ हर दिन कुछ न कुछ सीखने की कोशिश। राजनीति, अपराध और पॉजिटिव खबरों में रुचि।

Related Post