Sat. Aug 13th, 2022
cm yogi

लखनऊ। मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय परिसर में आयोजित रोजगार मेला इसका गवाह बना। गोरखपुर में ऐसा पहली बार हुआ जब एक ही परिसर में युवाओं का चयन करने के लिए देश के नामचीन समूहों समेत 121 कम्पनियों के प्रतिनिधि मौजूद रहे और 20 हजार से अधिक युवाओं का साक्षात्कार लिया। इतना ही नहीं एक ही दिन में 5163 युवाओं को नियुक्ति पत्र भी दे दिया गया।

युवाओं को रोजगार की हर संभावना पर योगी सरकार की नजर रहती है। सरकारी नौकरी और स्वरोजगार की अनेक योजनाओं से नौजवानों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए निजी क्षेत्र में भी रोजगार की संभावनाओं को विस्तार देने का प्रयास हो रहा है। रोजगार मेले इनमें बड़ी भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं।

गोरखपुर में आयोजित वृहद रोजगार मेला इसका उदाहरण है। इस मेले में एक ही दिन में पूर्वी उत्तर प्रदेश के पांच हजार से अधिक नौजवानों के करियर को नई दिशा मिल गई। अब वे कमाऊ पूत बन गए हैं। युवाओं का चयन कई प्रतिष्ठित कम्पनियों में हुआ है। बड़ी कम्पनियों में कार्य अनुभव इन युवाओं के भविष्य के लिए सुनहरा अध्याय सरीखा होगा।

इन कंपनियों ने दिया मौका

गोरखपुर के वृहद रोजगार मेले में नियुक्तियां देश की मशहूर कम्पनियों में हुई है। मोबाइल हैंडसेट निर्माता ओप्पो एवं मोटोरोला ने 650 युवाओं को नौकरी दी। ऑटोमोबाइल सेक्टर की विख्यात कम्पनी महिंद्रा एंड महिंद्रा ने 240, फेईएम इंडस्ट्रीज ने 200, पेडग्रेट इलेक्ट्रॉनिक ने 200, ई-कामर्स कम्पनी फ्लिपकार्ट ने 162, एलएनटी समूह ने 130, जोबिक्सो प्राइवेट लिमिटेड ने 122, ओकाया पावर ने 104, पॉलीमेडिकेयर ने 103, लार्स मेडिकेयर ने 100, गुड वर्कर ने 100 युवाओं का अंतिम चयन आकर्षक वेतन पर विभिन्न पदों पर किया है। इसके अलावा हुंडई, डिक्सन, एलआईसी व न्यू हॉलैंड जैसी कम्पनियों ने भी पूर्वी उत्तर प्रदेश के युवाओं को अपने साथ काम करने का अवसर दिया है।