Sun. Jun 23rd, 2024

कोहरे की वजह से हुए हादसे में तीन क्रिकेट खिलाड़ियों की मौत

accident
accident

बस्सी । सड़क हादसे में तीन खिलाड़ियों की मौत हो गई है। हादसे के बाद फैंस में कोहराम मच गया। वहीं सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने तीनों के शवों पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है। हादसा कोटपूतली नीमकाथाना स्टेट हाईवे पर गुरुवार सुबह 9.30 बजे चोटिया मोड के पास कोहरे के कारण डंपर ने बाइक को चपेट में ले लिया।

 

ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Whatsapp Channel को Follow करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें

हादसे में बाइक सवार तीन युवकों की मौत हो गई। तीनों युवक क्रिकेट खेलने खड़ब जा रहे थे। हादसे के बाद चालक डंपर को मौके पर छोड़कर फरार हो गया। पुलिस ने कोहरे के कारण आमने-सामने वाहन दिखाई नहीं देने से हादसा होने की आशंका जताई है। हादसे की सूचना मिलते ही खिलाड़ी फूट फूट कर रोने लगे। हादसे की सूचना मिलते ही आयोजकों ने क्रिकेट मैच का फाइनल स्थगित कर दिया।

सरुंड थाने के एएसआई धूडाराम ने बताया कि बाइक पाटन की तरफ से और डंपर कोटपूतली की तरफ से आ रहा था। इस दौरान डंपर ने बाइक को चपेट में ले लिया। डंपर बाइक को 200 मीटर घसीटते हुए ले गया। जिस वजह से बाइक में आग लग गई।

accident

बाइक पर सवार तीन लोगों में से सीकर के खंडेला के पास उदयपुरा निवासी अमित शर्मा (25), रींगस निवासी विवेक साहनी (20) की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं पांचू खरकड़ा पाटन निवासी अमित मीणा (20) को घायल हालत में कोटपूतली के राजकीय बीडीएम जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां से जयपुर के एसएमएस अस्पताल रैफर किया जा रहा था, लेकिन अस्पताल के बाहर ही दम तोड़ दिया।

 

अमित मीणा के पिता तोताराम मीणा ने बताया कि सुबह वह कहकर निकला था कि उसके दोस्त अमित शर्मा और विवेक साहनी सुबह ट्रेन से नीमकाथाना पहुंचे गए और दोनों बस से पाटन आ रहे हैं। मैं उनको लेकर क्रिकेट प्रतियोगिता का फाइनल खेलने खड़ब जा रहा हूं। सुबह जल्दी ही घर से बाइक लेकर निकल गया। सुबह 10 बजे सूचना मिली कि तीनों की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। यहां से क्रिकेट आयोजन स्थल दो किलोमीटर दूर था।

तीनों क्रिकेट खेलने में अच्छे थे। सेमीफाइनल में पहुंचने के बाद अमित ने दोनों को फाइनल खेलने के लिए बुलाया था। अमित मीणा की इनसे जानकारी खेलने के दौरान हुई थी। अमित शर्मा और विवेक के अच्छा खेलने के कारण उसने फाइनल मैच खेलने बुलाया था। अमित मीणा के पिता मजदूरी करते हैं। मां मनरेगा में काम करती है। एक भाई और बहन है, दोनों पढ़ाई कर रहे हैं और अमित शादीशुदा हैं।

 

वह प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा था। अमित शर्मा के पिता पूजा-पाठ कराते हैं। ये तीन भाई-बहन है जिसमें सबसे छोटा अमित है। उससे बड़ी बहन और बड़ा भाई है अभी पढ़ाई करते हैं। विवेक साहनी ने बी फार्मा किया है। परिवार में माता-पिता के अलावा बड़ा भाई और बड़ी बहन है। पिता प्राइवेट कंपनी में काम करते हैं और मां गृहिणी है।

 

हादसे के बाद नीमकाथाना मार्ग पर कुछ देर यातायात बाधित रहा। जाम से दोनों और दूर तक वाहनों की कतार लग गई। पुलिस ने वाहनों व लोगों को सड़क से हटवाकर यातायात सुचारू करवाया। मृतकों की शिनाख्त होने पर परिजनों को सूचना दी। परिजनों के आने पर पुलिस ने मृतकों का पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों को सौंपा।

 

डम्पर चालक मौके से फरार हो गया। पुलिस ने सुरक्षा की दृष्टि से डंपर को सरूण्ड थाने पर खड़ा करवाया है। पिछले दो दिनों से घना कोहरा छाया रहने से यातायात बाधित हो रहा है। नीमकाथाना मार्ग पर भी कोहरे के कारण हादसा हुआ है।

 

पुलिस ने कोहरे में वाहन सावधानी से चलाने, दो वाहनों के बीच पर्याप्त दूरी रहने, वाहनों पर फोग लाइट का उपयोग करने और वाहनों के इण्डीकेटर चालू रखने की सलाह दी है।

Related Post