Sat. Aug 13th, 2022
bjp

नई दिल्ली। नेटवर्क

गुरूवार को यूपी सरकार ने विधानसभा चुनाव से पहले छात्रों के स्मार्टफोन और टैबलैट वितरण किये थे। आचार संहिता लग जाने की वजह से वितरण रूक गया था। चुनाव के दौरान यूपी के मुख्यमंत्री ने टैबलैट भी देने की घोषणा की थी। भाजपा को जीत के बाद सीएम योगी ने स्माटफोन और लैपटॉप वितरण करने के लिये अधिकारियों को निर्देश दिये है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में लाभार्थियों को स्मार्टफोन और लैपटॉप का वितरण की तैयारियों को तेज किया जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि सभी जिलों में सांसद और विधायकों की मौजूदगी में छात्र-छात्राओं को लैपटॉप और स्मार्टफोन वितरित किया जाए।

योगी ने प्रतियोगी परीक्षा के लिए मुफ्त कोचिंग के साथ 2 करोड़ टैबलेट या स्मार्टफोन बांटने को कहा है। यूपी के सीएम ने चुनाव से पहले पहले चरण में छात्र-छात्राओं को टैबलेट और स्मार्टफोनों का वितरण किया था। चुनाव की घोषणा होने के बाद प्रदेश में आचार संहिता लग गई। जिसकी वजह से टैबलैट और स्मार्टफोन का वितरण नहीं हो पाया था।

बीजेपी का घोषणापत्र जारी होने के बाद योगी बोले कि यह 25 करोड़ लोगों के जीवन में बदलाव लाने वाला पत्र है। 5 साल पहले भी हमने पीएम मोदी के नेतृत्व में संकल्प पत्र रखा था। उन संकल्पों को मंत्र बनाकर जो कहा था वो करके दिखाया। जो आगे बोलेंगे उनको भी करके दिखाएंगे।

यूपी में भाजपा के पक्ष में स्पष्ट जनादेश का अर्थ भी स्पष्ट है कि जनता ने भाजपा पर भरोसा दोबारा जताया है। डबल इंजन की सरकार ने परियोजनाओं को पूरा ही नहीं किया बल्कि समय से जनता को लोकार्पित भी कर दिया। इसका परिणाम रहा कि सरकार की परियोजनाओं से जनता ने खुश होकर दोबारा भाजपा को मौका दिया है। वहीं चुनाव के पूर्व भाजपा की ओर से जारी चुनावी घोषणाओं के भी अब पूरा होने की उम्मीद आम जनता को जागी है।