Sun. Jun 23rd, 2024

Business Idea: पेपर के कप-प्‍लेट बनाने का बिजनेस करें शुरू, सरकार करेंगी मदद

paper cup 
paper cup 

नई दिल्‍ली। नेटवर्क

Business कागज से बनी प्‍लेटpaper cup  और कप सहित अन्‍य चीजों की डिमांड बढ़ गई है. जब से सरकार ने प्लास्टिक पर बैन लगा दिया है. अगर आपका भी अभी कोई बिजनेस Business शुरू करने का विचार है तो आप पेपर के कप-प्‍लेट सहित अन्‍य चीजों को बनाने की यूनिट स्‍थापित करके अच्‍छी कमाई कर सकते हैं.

ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Whatsapp Channel को Follow करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें

पेपर कप paper cup बनाने का बिजनेस Business कैसे करें शुरू

पेपर कप paper cup बनाने का बिजनेस Business  शुरू करने के लिए आपको ज्‍यादा पूंजी भी खर्च नहीं करनी होगी. शुरुआत में आप इसे थोड़ा पैसा लगाकर ही शुरू कर सकते हैं. पहले से ही पेपर paper से बने उत्‍पादों की मांग देश में अच्‍छी-खासी थी और अब सिंगल यूज प्‍लास्टिक से बने प्‍लेट और कप paper cup आदि पर बैन लगने से इनकी मांग में भारी उछाल आएगा. इसलिए अब यह बिजनेस शुरू करने का अच्‍छा मौका है.

paper cup b

पेपर कप paper cup यूनिट लगाने के लिये कितनी जगह चाहिए

पेपर कप paper cup यूनिट लगाने के लिए आपको ज्‍यादा जगह की जरूरत नहीं होती है. इसका कारण यह है कि जो मशीन लगाई जाती हैं उनका साइज दो से पांच फुट ही होता है. थोड़ी जगह में माल का स्‍टोरेज भी ज्‍यादा होता है. इस बिज़नेस Business के लिए आपको 2 मशीनों की जरूरत पड़ती है.

यह भी पढ़ें:  घर बैठे करें ऑनलाइन Online जॉब, वेतन मिलेगा 35 से 40 हजार प्रति माह

एक होती है ऑटोमैटिक पेपर प्‍लेट बनाने वाली मशीन और दूसरी कप और प्‍लेट के विभिन्‍न साइज और शेप बनाने के लिए. छोटी मशीन की कीमत 80 हजार रुपये से शुरू होती है. एक दिन में ये 10 हजार से 40 हजार तक पेपर कप और प्‍लेट बना सकती हैं.

इस बिज़नेस में ज्यादा कर्मचारियों की आवशकता नहीं होती है. इसमें मशीनों को चलाने के लिए 2 कर्मचारियों की आवश्‍यकता होती है. इसमें एक अनुभवी व्‍यक्ति चाहिए होता है, जो मशीनों को चलाने में एक्‍सपर्ट हो और एक उसकी सहायता के लिए हेल्‍पर होना चाहिए.

कहा मिलता है कच्‍चा माल

पेपर कप paper cup बनाने के लिए कच्‍चा माल और मशीनें आसानी से मिल जाती हैं. बिज़नेस शुरू करने के लिए आपको कच्चे माल के तौर पर मशीनों के इलावा 5 चीजों की जरूरत पड़ती है. प्रिंटेड लैमिनेटेड पेपर ब्लाइंड्स, लैमिनेटेड पेपर ब्लाइंड्स, सन्माइका पेपर ब्लाइंड, बॉटम रील और पैकिंग सामग्री. यह सामग्री आसानी से किसी बड़े शहर में मिल जाती है. इसके अलावा आप ऑनलाइन भी इन्‍हें खरीद सकते हैं. दिल्ली, मेरठ, सहित बड़े शहरों में मिल जाता है.

कितना होगा खर्च

पेपर कप बनाने की ऑटोमैटिक छोटी मशीनें 80 हज़ार से शुरू होती है. आप इनको अपने बिज़नेस Business  के हिसाब से खरीद सकते है. इसके इलावा ज़मीन, कर्मचारियों, और सेटअप पर खर्चा आता है. एक अनुमान के अनुसार, एक अच्‍छा पेपर कप मैन्‍युफेक्‍चरिंग बिज़नेस सेटअप 5 लाख से शुरू कर सकते हैं और बाद में इसे धीरे-धीरे बढ़ा सकते हैं.

कितनी होगी कमाई

ऑटोमैटिक मशीन से हर दिन लगभग कागज के 40,000 कप-प्‍लेट बनाए जा सकते हैं. एक पेपर कप या प्‍लेट बनाने पर लागत 20 पैसे होती है. इस हिसाब से 8,000 रुपये खर्च होंगे. आमतौर पर इन्‍हें 10 पैसे मुनाफे पर बेचा जाता है.

यह भी पढ़ें: कम पैसे से शुरू करें पोहा poha businessका बिजनेस, सरकार करेंगी मदद

इस तरह ये 12,000 रुपये में बिकेंगी और आपको 4 हजार रुपये मुनाफा होगा. आपकी कमाई आपके प्रोडक्‍शन और सेल पर निर्भर करती है. जितनी ज्‍यादा बिक्री होगी उतनी ही ज्‍यादा कमाई होगी. महीने में आप आराम से इस बिजनेस से 60 हजार रुपये कमा सकते हैं.

सरकार करेगी मदद

पेपर कप मैन्‍युफैक्‍चरिंग यूनिट लगाने के लिए आप केंद्र सरकार की मुद्रा योजना का लाभ उठाकर लोन ले सकते हैं. इस योजना के तहत कुल प्रोजेक्ट कास्ट का 25 फीसदी आपको खुद के पास से निवेश करना होगा. मुद्रा योजना के तहत 75 फीसदी लोन सरकार मुहैया करवा देती है.

जितनी मार्केटिंग होगी उतना बढ़ेगा बिजनेस

पेपर कप मैन्‍युफैक्‍चरिंग यूनिट लगाने के बाद जितने ज्याद मार्केटिंग होगी उतना ज्याद बिजनेस बढ़ता है। इसके लिय शहर की होल सेल की दुकानों पर भी संपर्क किया जा सकता है। और छोटी-छोटी दुकानों पर भी लड़कों के माध्यम से सप्लाई करा कसते है।

By Bhoodev Bhagalia

जागरूक यूथ न्यूज डिजिटल में सीनियर डिजिटल कंटेंट प्रोड्यूसर है। पत्रकारिता की शुरुआत हिन्दुस्तान अखबार, अमर उजाला, समर इंडिया होते हुए जागरूक यूथ न्यूज में पहुंचा। लगातार कुछ अलग और बेहतर करने के साथ हर दिन कुछ न कुछ सीखने की कोशिश। राजनीति, अपराध और पॉजिटिव खबरों में रुचि।

Related Post