Wed. Aug 10th, 2022
jandan

नई दिल्ली। नेटवर्क

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार अपने दूसरे कार्यकाल का चौथा बजट 1 फरवरी 2022 को पेश करने जा रही है. केंद्रीय वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) भी चौथी बार आम बजट (Union Budget 2022-23) पेश करेंगी. आगामी बजट में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार जनधन खातों (Jan Dhan Account) को लेकर कुछ बड़े ऐलान कर सकती है. बता दें कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 5 जुलाई 2019 को पहली बार आम बजट पेश किया था.

जनधन खातों से अटल पेंशन योजना, सुकन्या समृद्धि योजना को जोड़ने की तैयारी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वित्त मंत्री आगामी बजट में जनधन खातों में डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) और सुकन्या समृद्धि योजनाओं (Sukanya Samriddhi Yojana) जैसी योजनाओं से जोड़ सकती है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रधानमंत्री जनधन सेवाओं को यह तीसरा चरण होगा.

डिजिटल बैंकिंग से जुड़ने के बाद जनधन अकाउंट होल्डर को मोबाइल बैंकिंग की सुविधा भी मिलनी शुरू हो सकती है. सरकार ने जनधन खातों से अटल पेंशन योजना, सुकन्या समृद्धि योजना जैसी योजनाओं को जोड़ने की योजना बनाई है. ऐसा करने से जनधन अकाउंट्स से इन योजनाओं की रकम जमा की जा सकती है.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त 2014 को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दिए गए अपने संबोधन में प्रधानमंत्री जन-धन योजना (Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana-PMJDY) का ऐलान किया था.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री जन धन योजना सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक है और इस योजना का मकसद ज्यादा से ज्यादा लोगों को बैंकिंग सिस्टम से जोड़ना है. जन धन अकाउंट की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसमें न्यूनतम बैलेंस रखने की जरूरत नहीं होती है. जनधन अकाउंट को बैंक, पोस्ट ऑफिस और राष्ट्रीयकृत बैंकों में खोल सकते हैं.