Fri. Jun 21st, 2024

राशन की दुकानों पर मिलेगा LPG सिलेंडर, जानिए किन लोगों को मिलेगा और कितने देनी होगी रकम

5-kg-gas-cylinder
5-kg-gas-cylinder

Lockdown: योगी सरकार प्रदेशवासियों के लिये सरकारी राशन की दुकानों पर जल्द छोटे 5 KG किलो एलपीजी LPG सिलेंडरों का वितरण किया जाएगा.केंद्र सरकार की उज्जवला योजना के तहत लोगों को एलपीजी सिलेंडर दिए गए. लेकिन महंगाई के कारण बहुत लोग इसकी रिफिलिंग नहीं करा पा रहे हैं. ऐसे में प्रदेश सरकार ने अब राशन की दुकानों पर 5 किलो के छोटे LPG एलपीजी सिलेंडर का वितरण कराए जाने की व्यवस्था के निर्देश जिला स्तर पर दिए हैं. स्थानीय प्रशासन अब कोटेदारों और एलपीजी कंपनियों के बीच एग्रीमेंट करा रही है.

छोटू नाम से होगी ब्रांडिंग

सरकारी राशन की दुकानों पर मिलने वाले 5 किलो एलपीजी सिलेंडर का ब्रांड नेम छोटू होगा. यह सिलेंडर सीधे उपभोक्ताओं को दिए जाएंगे. उपभोक्ता राशन की दुकानों पर ही इन सिलेंडर को रिफिल भी करा सकेंगे.

ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Whatsapp Channel को Follow करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें

सभी जिला पूर्ति अधिकारी को सरकार ने निर्देश दिये देकर डाटा मांगा है. शासनादेश के बाद राशन की दुकानों पर छोटे एलपीजी सिलेंडर उपलब्ध कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. नगरीय क्षेत्र के कोटेदारों और एलपीजी कंपनियों के बीच अनुबंध कराए जा रहे हैं. हालांकि इसे लेने के लिए उपभोक्ताओं पर कोई बाध्यता नहीं होगी. शुरुआती दौर में इसकी शुरुआत नगरीय क्षेत्र से की जा रही है. बाद में इसे ग्रामीण क्षेत्रों में भी लागू किया जाएगा.

चुकाने होंगे इतने रुपए

इस शासनादेश के तहत नगरीय और ग्रामीण क्षेत्रों की राशन की दुकानों पर 5 किलो वाला छोटा गैस सिलेंडर उपलब्ध रहेगा. इसे सिर्फ आधार कार्ड दिखा कर लिया जा सकेगा. पहली बार गैस सिलेंडर लेने पर 1312 रुपए देने होंगे. वहीं रिफिलिंग कराने के लिए 572 रुपए चुकाने होंगे.

By Bhoodev bhagalia

Bhoodev भूदेव जागरूक यूथ न्यूज अखबार व वेबसाइड में सीनियर कंटेंट एडिटर के पद पर कार्यरत है। पिछले 10 वर्षों से मीडिया क्षेत्र प्रिन्ट और डिजिटल में काम कर रहे है। पत्रकारिता में पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद अपने करियर की शुरूआत वर्ष 2012 में हिन्दुस्तान समाचार पत्र मुरादबाद से की। इसके बाद अमर उजाला में भी अपनी सेवाएं दी। प्रिंट मीडिया में रहते हुए डेस्क और न्यूज एडिटिंग में काफी समय तक काम किया है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *