Fri. Jun 21st, 2024
Free Sila Machine Registration 2023

Free Sila Machine Registration 2023: सरकार ने महिलाओं को आत्मनिर्भर करने के लिये विश्वकर्म श्रम सम्मान योजना के तहतFree Sila Machine Registration 2023 फ्री सिलाई मशीन के साथ 15000 रूपये की किट मिलेगी। इस योजना के लिये रजिस्ट्रेशन शुरू हो गये है। वे महिलाओं को मुफ्त में सिलाई मशीनें देते हैं और उन्हें इस्तेमाल करना सिखाते हैं।

Free Sila Machine Registration 2023: विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना,उ0प्र0 सहित पूरे भारत में लागू कर दी गई है। इस योजना का उद्देश्य प्रदेश के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के पारम्परिक कारीगर जैसे बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची, राजमिस्त्री एवं हस्तशिल्पियों के आजीविका के साधनों का सुदृढ़ीकरण करते हुए उनके जीवन स्तर को उन्नत करना है। योजनान्तर्गत आच्छादित पात्र पारंपरिक कारीगरों एवं दस्तकारों को कौशल वृद्धि हेतु 06 दिवसीय निःशुल्क प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा।

ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Whatsapp Channel को Follow करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें

सफल प्रशिक्षण उपरांत ट्रेड से सम्बंधित ,आधुनिकतम तकनीकी पर आधारित उन्नत किस्म की टूल किट वितरित की जाएगी। आवेदक उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिएद्य आवेदक की न्यूनतम आयु 18 वर्ष होनी चाहिए। आवेदक को पारम्परिक कारीगरी जैसे बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची अथवा दस्तकारी व्यवसाय से जुड़ा होना चाहिए।

उज्ज्वला योजना की 400 रूपये सब्सिडी लेने के लिये करना होगा ये जरूरी काम, जानें

योजनान्तर्गत पात्रता हेतु जाति एक मात्र आधार नहीं होगा। योजनान्तर्गत लाभ प्राप्त करने हेतु ऐसे व्यक्ति भी पात्र होंगे जो परम्परागत कारीगरी करने वाली जाति से भिन्न हों। ऐसे आवेदकों को परम्परागत कारीगरी से जुड़े होने के प्रमाण के रूप में ग्राम प्रधान, अध्यक्ष नगर पंचायत अथवा नगर पालिका/नगर निगम के सम्बन्धित वार्ड के सदस्य द्वारा निर्गत किया गया प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा द्यपरिवार का केवल एक सदस्य ही योजनान्तर्गत हेतु पात्र होगा। परिवार का आशय पति अथवा पत्नी से है।

Free Sila Machine Registration 2023 फ्री मशीन के साथ अन्य किट भी मिलेगी

Free Sila Machine Registration 2023 दर्जी के साथ अन्य लोग भी इस योजना का लाभ ले सकते है। इस योजना का उद्देश्य प्रदेश के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के पारम्परिक कारीगर जैसे बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची, राजमिस्त्री एवं हस्तशिल्पियों के आजीविका के साधनों का सुदृढ़ीकरण करते हुए उनके जीवन स्तर को उन्नत करना है। योजनान्तर्गत आच्छादित पात्र पारंपरिक कारीगरों एवं दस्तकारों को कौशल वृद्धि हेतु 06 दिवसीय निःशुल्क प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा।

Free Sila Machine Registration 2023 निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जायेगा

पारम्परिक कारीगर जैसे बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची, राजमिस्त्री एवं हस्तशिल्पियों के आजीविका के साधनों का सुदृढ़ीकरण करते हुए उनके जीवन स्तर को उन्नत करना है। योजनान्तर्गत आच्छादित पात्र पारंपरिक कारीगरों एवं दस्तकारों को कौशल वृद्धि हेतु 06 दिवसीय निःशुल्क प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा। जो जिला स्तर पर आयोजित किये जायेंगे।

महिलाओं को एक महीने तक सिलाई करना सिखाया जाता है और फिर उन्हें मुफ्त में सिलाई मशीनें दी जाती हैं ताकि वे घर पर ही सिलाई कर सकें। यह लेख एक ऐसे कार्यक्रम के बारे में है जो महिलाओं को सिलाई मशीनें देता है ताकि वे घर से काम कर सकें और पैसे कमा सकें।

Free Sila Machine Registration 2023 फ्री सिलाई मशीन योजना आवेदन फॉर्म

सरकार देश में महिलाओं को मुफ्त में सिलाई मशीनें देकर उनकी मदद करने की कोशिश कर रही है। यह प्रधानमंत्री सिलाई मशीन योजना नामक कार्यक्रम का हिस्सा है। यह उन महिलाओं के लिए है जिनके पास छोटी नौकरी है या वे अपने घर से बाहर काम नहीं कर सकती हैं।

एक महिला ऐसे कार्यक्रम के लिए साइन अप कर सकती है जहां सरकार उसे मुफ्त में एक सिलाई मशीन देती है। सिलाई मशीन से वह घर पर ही सिलाई का काम शुरू कर सकती है। सरकार महिलाओं को काम ढूंढने में मदद करना चाहती है और इस लेख में हम जानेंगे कि कार्यक्रम के लिए आवेदन कैसे करें और इससे क्या लाभ मिलते हैं।

सरकार से मुफ्त सिलाई मशीन प्राप्त करने के लिए, आपको अपनी जानकारी के साथ एक फॉर्म भरना होगा। फिर, आपको फॉर्म अपने स्थानीय ग्राम परिषद या सामुदायिक केंद्र को देना होगा।

Free Sila Machine Registration फ्री सिलाई मशीन योजना उद्देश्य

सरकार की एक योजना है जिसे Free Sila Machine Registration 2023सिलाई मशीन योजना फॉर्म 2023 कहा जाता है। यह देश में महिलाओं को अपने लिए काम खोजने में मदद करने वाली कई योजनाओं में से एक है। इस योजना का लक्ष्य उन महिलाओं की मदद करना है जिनके पास बहुत अधिक पैसा नहीं है, वे मजबूत बनें और कपड़े सिलने का काम खोजें। इस तरह, वे अपने परिवार की देखभाल के लिए पैसे कमा सकते हैं।

सरकार उन महिलाओं को सिलाई मशीनें दे रही है जिनके पास ज्यादा पैसे नहीं हैं। वे इन महिलाओं को नौकरी ढूंढने और पैसा कमाने में मदद करना चाहते हैं। और सबसे अच्छी बात यह है कि सिलाई मशीनें पूरी तरह मुफ़्त हैं।

यह एक ऐसा कार्यक्रम है जहां कुछ महिलाएं मुफ्त में सिलाई मशीन प्राप्त कर सकती हैं।

जिन महिलाओं को यह लाभ मिल सकता है उनकी उम्र 18 से 40 वर्ष के बीच है और वे ऐसे परिवारों से आती हैं जो बहुत अमीर नहीं हैं।
इसका मतलब यह है कि यह कार्यक्रम गरीब महिलाओं के लिए है।
महिला के परिवार की आय एक वर्ष में 1 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए। महिलाएं भी समाज के कमजोर वर्ग से होनी चाहिए।
इस कार्यक्रम का लाभ विधवा एवं विकलांग महिलाएं भी उठा सकती हैं।
हर राज्य में 50 हजार महिलाओं को मुफ्त सिलाई मशीन मिलेगी।

Free Sila Machine Registration 2023.jpg n

फ्री सिलाई मशीन योजना जरूरी दस्तावेज

आपके पास महिला का आधार कार्ड होना जरूरी।
बैंक पास बुक होना चाहिए।
आय प्रमाण पत्र होना जरूरी है।
आयु प्रमाण पत्र होना चाहिए।
आवेदक महिला की फोटो ।
मोबाइल नंबर होना चाहिए।
आधार कार्ड होना जरूरी है।

फ्री सिलाई मशीन योजना में केसे करे ऑनलाइन आवेदन फार्म डाउनलोड

सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
वेबसाइट पर आपको एक ऑनलाइन आवेदन करने के बाद घोषणा फॉर्म मिलेगा जिसे आपको डाउनलोड करना होगा।
फॉर्म पर प्रधान या सभासद की मोहर लगाकर फिर से अपलोड करना होगा।
सुनिश्चित करें कि आप सटीक जानकारी प्रदान करें. फिर, आपको अपना आधार कार्ड, आयु प्रमाण पत्र, पहचान पत्र और आय प्रमाण पत्र जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेज इकट्ठा करने होंगे।
इन दस्तावेजों को आवेदन पत्र के साथ संलग्न करें।

free silai machine apply online ऑनलाइन आवेदन फार्म डाउनलोड   

website https://diupmsme.upsdc.gov.in/login/registration_login

By Bhoodev bhagalia

Bhoodev भूदेव जागरूक यूथ न्यूज अखबार व वेबसाइड में सीनियर कंटेंट एडिटर के पद पर कार्यरत है। पिछले 10 वर्षों से मीडिया क्षेत्र प्रिन्ट और डिजिटल में काम कर रहे है। पत्रकारिता में पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद अपने करियर की शुरूआत वर्ष 2012 में हिन्दुस्तान समाचार पत्र मुरादबाद से की। इसके बाद अमर उजाला में भी अपनी सेवाएं दी। प्रिंट मीडिया में रहते हुए डेस्क और न्यूज एडिटिंग में काफी समय तक काम किया है।

Related Post