मंगल. जुलाई 23rd, 2024

इन किसानों को नहीं मिलेगी PM किसान सम्मान निधि की 11वीं किश्त, चेक करें अपना नाम

ई दिल्ली। नेटवर्क

भारत सरकार किसानों को प्रति वर्ष 6000 हजार किसानों के खातों में भेज रहीे है। अबतक किसानों को दस किश्त जारी कर चुकी है। अब अप्रैल में 11वीं किश्त आने वाली है। इसके लिये विभाग ने प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना के लिए ई केवाईसी जरूरी कर दिया है।पीएम किसान सम्‍मान निधि के पात्रों के लिए अंतिम तिथि 31 मार्च है। इस अवधि में ई केवाईसी करानी होगी।

ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Whatsapp Channel को Follow करें
ऐसी खबरें पढ़ने के लिये Group को Join करें

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के पात्र किसानों को अब ई-केवाईसी (नो योर कस्टमर वेरिफिकेशन) करवाना जरूरी है। इसके लिए पात्र किसानों को 31 मार्च तक का समय दिया गया है। अगर किसानों ने इस तय समय तक ई-केवाइसी अपडेट नहीं करवाई तो किसानों की अगली किस्त रुक सकती है। ऐसे में विभाग की ओर से सभी पात्र किसानों से जल्द से जल्द ई-केवाईसी अपडेट करने की अपील की गई है।

इस योजना के तहत किसानों को सरकार की ओर से छह हजार रुपये वार्षिक सहायता राशि दी जाती है। यह राशि सीधे किसानों के खातों में भेजी जा रही है। यह राशि साल भर में दो-दो हजार की तीन किस्तों में जारी की जाती है।

कामन सर्विस सेंटर CSC पर जाकर करवा सकते हैं ई-केवाईसी

किसान जिला भर में खुले कामन सर्विस सेंटर पर जाकर अपना ई-केवाईसी करवा सकते हैं। इसे अपने एंड्रायड फोन से भी अपडेट किया जा सकता है। इससे लिए पात्र किसान को किसान सम्मान निधि की वेबसाइट पर जाना होगा। उसके बाद इसमें किसान कालम में क्लिक करने के बाद किसान को अपने आधार नंबर की जानकारी देनी होगी।

आधार सर्च करने के बाद आधार से लिंक मोबाइल का नंबर देना होगा। इसी नंबर पर एक ओटीपी आएगा। यह ओटीपी डालने के बाद पंच सबमिट करना होगा। इसके बाद प्रक्रिया पूरी करने पर ई-केवाईसी अपडेट हो जाएगा। योजना के पात्र किसानों को यह काम 31 मार्च से पहले-पहले पूरा करना होगा।

By Bhoodev Bhagalia

जागरूक यूथ न्यूज डिजिटल में सीनियर डिजिटल कंटेंट प्रोड्यूसर है। पत्रकारिता की शुरुआत हिन्दुस्तान अखबार, अमर उजाला, समर इंडिया होते हुए जागरूक यूथ न्यूज में पहुंचा। लगातार कुछ अलग और बेहतर करने के साथ हर दिन कुछ न कुछ सीखने की कोशिश। राजनीति, अपराध और पॉजिटिव खबरों में रुचि।

Related Post

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *