Wed. Aug 10th, 2022
jandhan

नई दिल्ली। नेटवर्क

जनधन (Jan Dhan) खाताधारकों को जल्द अटल पेंशन योजना और बीमा योजना का लाभ भी मिल सकता है। इसके अलावा किसानों और छोटे कारोबारियों को जनखाते के जरिये कर्ज सुविधा देने की योजना पर भी विचार हो रहा है। मामले से जुड़े सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी है। सूत्रों की मानें तो बैंक जल्द ही देशभर में जनधन 3.0 के तहत नए खाते खोलना शुरू करेंगे।

नए चरण में सरकार का जोर डिजिटल डोरस्टेप बैंकिंग पर भी होगा जिससे अधिक से अधिक लोगों तक बैंकिंग, बीमा और पेंशन का लाभ दिया जा सके। मामले से जुड़े सूत्रों का कहना है कि बैंकों से कहा गया है कि बदलते दौर में डिजिटल बैंकिंग Digital Bankingके बढ़ते महत्व को देखते हुए जनधन खाता को सभी तरह की जरूरी बैंकिंग, बीमा और पेशन योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए एक मंच की तरह इस्तेमाल करने पर काम करें।

ई-श्रम कार्ड धारकों को मिलेगा 500 रूपये प्रति माह भरण पोषण भत्ता, जानें आवेदन करने का तरीका

जनधन (Jan Dhan) खाता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की महत्वकांक्षी पहल में से एक रही है। इस योजना के तहत रिकॉर्ड कम समय में 40 करोड़ से अधिक खाते खोले गए। कई विशेषज्ञों की आलोचनाओं के बावजूद जनधन खाता का महत्व कोरोना महामारी में जरूरतमंदों तक सीधे राशि भेजने, सरकारी योजनाओं का लाभ सीधे खाते में देने समेत कई मौकों पर देखने को मिला है। अब विशेषज्ञ इसकी पहुंच को देखते हुए इसे पासा पलटने वाला बता रहे हैं।

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) को जोडऩे की तैयारी

सरकार अपनी कई योजनाओं को जनधन खाते से जोडऩा चाहती है। मामले से जुड़े सूत्रों का कहना है कि इसमें सबसे महत्वपूर्ण अटल पेंशन योजना है। इसके अलावा बैंकों को सुकन्या समृद्धि योजना, पीएम स्वनिधि योजना और स्टैंडअप इंडिया और सरकारी बीमा योजनाओं को भी जनधान खाते से जोडऩे पर पर विचार करने को कहा गया है। बैंकों से कहा गया है कि जनधन, आधार और मोबाइल (जैम) के तहत वह जनखातों को सभी बैंकिंग सुविधाओं से जोडऩे का प्रयास करें जिससे अधिक से अधिक लाभ खाताधारकों को हो।

क्या है अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana)

18 साल की उम्र में अगर कोई व्यक्ति 42 साल के लिए हर महीने 42 रुपये जमा करता है तो उसे 1000 रुपये की पेंशन मिलेगी. अगर योजना के दौरान खाताधारक की असामयिक मृत्यु हो जाए तो नॉमिनी को 1.7 लाख रुपये मिलेंगे. वही 18 साल का व्यक्ति अगर 42 साल तक हर महीने 84 रुपये जमा करे तो उसे 2000 रुपये की पेंशन प्रति माह मिलेगी. खाताधारक अगर इस दौरान दुनिया छोड़कर चले जाते हैं तो नॉमिनी को 3.4 लाख रुपये मिलेंगे.

ई-श्रम कार्ड बनने के बाद 3000 रूपये मासिक पेंशन पाने के लिये करें ऑनलाइन आवेदन

18 साल का ग्राहक 42 महीने के लिए हर महीने 126 रुपये जमा करे तो उसे प्रति माह 3000 रुपये की पेंशन मिलेगी. खाताधारक की असामयिक मृत्यु होने पर नॉमिनी को 5.1 लाख रुपये मिलेंगे. अगर 18 साल का कोई ग्राहक 42 महीने के लिए हर माह 168 रुपये का योगदान दे तो उसे 4000 रुपये की पेंशन मिलेगी. उसकी मृत्यु हो जाने पर 6.8 लाख रुपये की पेंशन मिलेगी. अगर वही 18 साल का ग्राहक 42 महीने तक हर माह 210 रुपये जमा करेगा तो उसे 5000 रुपये की पेंशन मिलेगी. असामयिक मृत्यु हो जाने पर उसके नॉमिनी को 8.5 लाख रुपये मिलेंगे.

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) में किसी खाताधारक को कम से कम 42 रुपये और अधिकतम 210 रुपये प्रति माह जमा करना होता है. इसका अर्थ हुआ कि कोई खाताधारक हर महीने 42 रुपये भी जमा करता है तो उसे 60 साल बाद 1,000 रुपये की पेंशन मिलेगी. इसी तरह कोई व्यक्ति अगर हर महीने 210 रुपये जमा करता है तो उसे 60 साल बाद 5,000 रुपये की पेंशन मिलेगी. 18 साल से 40 साल के बीच का कोई भी भारतीय नागरिक इस योजना से जुड़ सकता है बुढ़ापे की पेंशन के लिए योगदान राशि जमा कर सकता है. सरकार इस योजना के तहत जमाकर्ताओं को फिक्स्ड पेंशन गारंटी देती है क्योंकि कम पैसे जमा कर भी हर महीने आप एक फिक्स इनकम के हकदार होते हैं.

किसान-छोटे कारोबारियों को भी लाभ मिलेगा

जनधन (Jan Dhan) खातों के जरिये सरकार अब किसानों ओर सूक्ष्म,लघु एवं मझोले (एमएसएमई) उद्योग से जुड़े कारोबारियों को भी सुविधा देने की है। इसके जरिये किसानों, छोटे कारोबारियों को जल्द कर्ज मुहैया कराने की भी योजना शुरू करने पर काम हो रहा है। इसके अलावा सरकार घर-घर बैंकिंग सुविधा पहुंचाने की योजना पर काम कर रही है। इसमें डिजिटल बैंकिंग को बढ़ावा देने के साथ हर पांच किलोमीटर के दायरे में बैंकिंग सुविधाएं देना भी शामिल है।

एक खाता पर कई फायदे

जनधन खाता में आपको दो लाख रुपये का दुर्घटना बीमा और 30 हजार रुपये का सामान्य बीमा कवर दिया जाता है। पहले दुर्घटना बीमा कवर एक लाख रुपये था जिसे वर्ष 2018 में बढ़ाकर दो लाख रुपये कर दिया गया। इसके अलावा खाता खुलने के छह माह बाद ओवरड्राफ्ट की सुविधा, मुफ्त मोबाइल बैंकिंग, रुपे डेबिट कार्ड मिलता है। साथ ही सरकारी योजनाओं के लाभ का पैसा सीधे खाते में आता है।